9+ biggest mistake of smartphone users – Helptip

ये 9+ biggest mistake of smartphone users इस गलतियों के कारण आपके स्मार्टफोन की लाइफटाइम कम हो जाती है।

तो दोस्तो चिंता करने की कोई जरूरत नही हैं क्योंकि मैं इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसे टिप्स एंड ट्रिक्स बताऊंगा जिसे आप फॉलो करके अपने स्मार्टफोन की लाइफटाइम को बढ़ा सकते है।

ये टिप्स मैं खुद फॉलो करता हूँ। और मुझे रिजल्ट भी देखने को मिलता है।

तो चलिए जानते है कि वो कौन सी 9+ biggest mistake of smartphone users.

Smartphone-users-mistake



स्मार्टफोन, स्मार्टफोन, स्मार्टफ़ोन…

इस समय बिना स्मार्टफोन के कोई काम ही नही होता है। स्मार्टफोन एक ऐसा ही चीज है जिसकी जरूरत हमे चौबीसो घण्टे पड़ती है, आफिस से घर तक, घर से लेकर आफिस तक।

अगर आप स्टूडेंट है तो भी आपको पड़ने के लिए स्मार्टफोन की जरूरत पड़ती है। अगर आप आफिस में काम करते है तो भी आपको स्मार्टफोन की जरूरत पड़ती है।

इस समय आप किसी फील्ड में काम करते है आपको स्मार्टफ़ोन की जरूरत जरूर पड़ेगी।

इस भाग-दौड़ की दुनिया मे आपके साथ सबसे ज्यादा आपका स्मार्टफ़ोन ही होता है।

जब हमारा स्मार्टफोन नया होता है तो उस समय हम उसका care करते है, लेकिन जैसे-जैसे पुराना होता जाता है वैसे-वैसे हम अपने स्मार्टफोन के प्रति केयरलेस होते जाते है।

और कुछ गलतियां कर बैठते है जिससे आपका स्मार्टफोन खराब हो जाता है।

तो चलिए दोस्तो जानते है कि वो कौन सी गलतियां है।

9+ biggest mistake of smartphone users

1. बैटरी को गलत तक़रीक़े से चार्ज करना।
2. थर्ड पार्टी स्टोर से ऐप डाउनलोड करना।
3. बहुत सारे ऐप खोलना
4. आवेदन की अनुमति
5. फ्री वाई-फाई का उपयोग करना
6. स्मार्टफोन को अपडेट न करना।
 7. स्क्रीन लॉक न करना।
8. समान पासवर्ड रखना।
9. नकली एक्सेसरीज का उपयोग करना।
10. हमेशा ब्लूटूथ आन करके रखना।

9+ एंड्राइड मिस्टेक जो आपको कभी नही करनी चाहिए। Top 10 mistake of android user in hindi

Let’s Start…

1. बैटरी को गलत तक़रीक़े से चार्ज करना।

मोबाइल की बैटरी से हर यूज़र्स परेसान रहता है। किसी भी बैटरी जल्दी डिस्चार्ज हो जाती है, किसी की बैटरी जल्दी चार्ज नही होती है, वगैरा, वगैरा…

दोस्तो ये सब आपके गलती से होता है, जी हां आप सही सुने।

हर चीज करने का कोई तरीका होता है उसी तरह बैटरी भी चार्ज करने का एक तरीका होता हैं।

अक्सर लोग अपने स्मार्टफोन को रात-भर चार्जिंग होने के लिए छोड़ देते है। और बैटरी को पूरा 100% चार्ज करते है। ये बिल्कुल गलत है।

कैसे बचें?

● कभी भी अपने स्मार्टफोन की बैटरी को 0 % न होने दें। और ना ही फूल 100% चार्ज करें।
● 15% होने से पहले चार्जिंग करें। और 80 से 90 % तक अपने फ़ोन को चार्ज करें।
● हमेशा मोबाइल के साथ दिए हुए ही चार्जर का इस्तेमाल अपने फोन चार्ज करने के लिए करें।
● अगर आपका चार्जर खराब हो गया हो तो जिस कंपनी का आपका फ़ोन है उसी कंपनी के चार्जर का प्रयोग करें।
● मोबाइल चार्ज होने के तुरंत बाद आप अपने मोबाइल को चार्जर से अनप्लग (निकलना) कर दें।

2. थर्ड पार्टी स्टोर से ऐप डाउनलोड करना।

थर्ड पार्टी ऐप यानी कि गूगल प्ले स्टोर के अलावा किसी दूसरे प्लेटफार्म से ऐप को शेयर या डाउनलोड करना।

हालाँकि एंड्रॉइड और आईफोन अपने उपयोगकर्ताओं को ऐप स्टोर प्रदान कर रहे हैं आप वहाँ से ऐप को डाउनलोड कर सकते है।

जैसे कि :- uptodown, apk pure, apk4you, etc जैसी वेबसाइट से ऐप को डाऊनलोड करना।

थर्ड पार्टी ऐप के जरिये अपने स्मार्टफोन के अंदर वायरस, मैलवेयर, इत्यादि एंटर कर सकते है।

और आप जानते ही होंगे वायरस किसी भी स्मार्टफोन या इलेक्ट्रॉनिक गैजेट को हानि पहुंचता है।

थर्ड पार्टी ऐप के जरिये आपका डेटा भी चोरी हो सकता है।

कैसे बचें?

● हमेशा गूगल प्ले स्टोर से ही ऐप को डाऊनलोड करें।
● अगर थर्ड पार्टी अप्प स्टोर से ऐप डाउनलोड कर रहे है तो ऐप डिस्क्रिप्शन और रेटिंग का जरूर ध्यान दे।
● कभी भी ब्लूएटूथ या शेयर इट के जरिये ऐप को न लें।
● अपने मोबाइल के सेटिंग में जाकर unknown source के ऑप्शन को ऑफ कर दें। (setting>security>unknown source)
● हमेशा एंटीवायरस ऐप का इस्तेमाल करें।

यह भी पढ़े:DP का फुल फॉर्म क्या है ? | DP Full Form in hindi

3. बहुत सारे ऐप खोलना

यूजर्स आमतौर पर फोन पर 20 से 30 एप्स रखते हैं। जिनमें से वे केवल कुछ का उपयोग करते हैं, लेकिन बाकी को रीसेंट ऐप में छोड़ देते हैं।

 जिसके कारण फोन की बैटरी की खपत अधिक होने लगती है। और फोन भी धीमा हो जाता है।

इसके कारण आपका फ़ोन ज्यादा हीट होने लगता है।

कैसे बचें?

● जिस ऐप का आप उपयोग कर रहे है उन्ही ऐप को रीसेंट टैब में रहने दे। बाकी सब ऐप को हता दें।
● जितना कम हो सके उतना ही ऐप को रीसेंट टैब में रहने दें।
● स्मार्टफोन रखते समय रीसेंट टैब को क्लियर कर दें।

4. आवेदन की अनुमति

अक्सर आप कोई भी ऐप पहली बार इनस्टॉल करते है। जब आप उस ऐप को ओपन करते है तो वो ऐप आपसे कुछ परमिशन माँगता है।

और कुछ लोग सारे परमिशन को आंख मूँदकर allow कर देते है।

 वे आपसे अपने फोन डेटा या अन्य चीजों को एक्सेस करने का अनुरोध करते हैं।

 जिन्हें आप बिना देखे देखते हैं उन्हें अनुमति दें। इसके साथ ही आपके फोन की प्राइवेसी और डेटा इन एप्स में जाने लगते हैं।

कैसे बचें?

● कभी भी थर्ड पार्टी ऐप स्टोर से ऐप को डाउनलोड ना करें।
● अगर कोई ऐप आपसे परमिशन मांग रहा है तो सबसे पहले ऐप की रेटिंग और प्राइवेसी पालिसी को जरूर देखें।

5. फ्री वाई-फाई का उपयोग करना

फ्री के चीज हर कोई लेना पसन्द करता है। पर क्या आप जानते है कि फ्री के चीज कभी-कभी आपके लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है।

इस समय लगभग हर रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस स्टैंड, इलेक्ट्रिक की दुकान पर फ्री कक वाई-फाई उपलब्द होता है।

फ्री के वाई-फाई से आप अपने स्मार्टफोन को कनेक्ट करके गाने, वीडियो, एप्पलीकेशन, इत्यादि डाउनलोड करने लगते है।

ये छोटी-सी गलती आपके महंगे स्मार्टफोन की बैंड बाजा सकता है। जी हां दोस्तो अपने सही सुना। क्योकि फ्री के वाई-फाई के जरिये आपके स्मार्टफोन के अंदर वायरस एंटर कर सकता है।

कैसे बचें? 

● फ्री के वाई-फाई का इस्तेमाल न करें।
● अगर आप फ्री के वाई-फाई का इस्तेमाल करना चाहते है तो अपने दोस्तों, फैमिली या रेलवे स्टेशन वाले वाई-फाई का उसे कर सकते है।
● किसी अनजान व्यक्ति के वाई-फाई का प्रयोग न करें।

6. स्मार्टफोन को अपडेट न करना।

आपका स्मार्टफोन किसी भी कंपनी का हो। हर कंपनी हप्तो में, महीने में कुछ-न-कुछ जरूर अपडेट लाते रहते है।

यह अपडेट आपके स्मार्टफोन को पहले से बेहतर बनाते है, नए-नए फीचर्स आते है और आपके स्मार्टफोन की सिक्योरिटी को बढ़ाते है।

 कुछ यूज़र्स जानकारी, इंटरनेट औऱ मेमोरी स्टोरेज के अभाव में इसे अपडेट नही कर पाते हैं।

पर कुछ लोग इसे जानबुझ कर इसे अनदेखा कर देते हैं। जिससे उनका स्मार्टफोन धीरे-धीरे स्लो होने लगता हैं।

और आपके फोन कि सिक्योरिटी कमजोर हो जाती है, जिससे वायरस आपके स्मार्टफोन में आसानी से एंटर कर सकता हैं।

कैसे बचें:-

● जब कोई आपके एंड्राइड OS का अपडेट आये तो आप तुरंत अपडेट करें।
● मोबाइल के ऐप को भी अपडेट करते रहे।
● सिस्टम ऐप को भी अपडेट करें।

 7. स्क्रीन लॉक न करना।

आम-तौर पर कुछ यूज़र्स अपने मोबाइल फ़ोन में स्क्रीन लॉक नही लगाते है, ये उनकी बहुत बड़ी गलती हैं।

क्योकि हमारे स्मार्टफ़ोन में कुछ जरूर इन्फोर्मेशन होती है जिसे डिलीट होने का डर होता है।

इसका एक ही उपाय है कि आप अपने स्क्रीन पर लॉक लगा के रखें।

अगर आपका कोई डेटा गलत हाथो में चला जाता है तो आपको मानशिक और आर्थिक दोनो रूप से आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

आपकी थोड़ी सी असावधानी आपको को भारी नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए मैं आपको रिकमेंड करूँगा कि अपने स्मार्टफोन में स्क्रीन लॉक जरूर लगा के रखें।

कैसे बचें?

● आप अपने फ़ोन में लॉक स्क्रीन लगायें।
● पासवर्ड थोड़ा अच्छा लगाएं कि कोई गेस न कर सके।
● अपने जरूरी मोबाइल ऐप जैसे कि google pay, phone pay, paytm, जैसे ऐप को लॉक करके रखें।

यह भी पढ़े:DP का फुल फॉर्म क्या है ? | DP Full Form in hindi

8. समान पासवर्ड रखना।

समान पासवर्ड यानी हर जगह एक ही पासवर्ड रखना। अक्सर लोग अपने ATM, UPI पासवर्ड, Email-ID का पासवर्ड याद रखने के लिए अपने मोबाइल लॉक स्क्रीन का पासवर्ड, अपने सोशल आईडी का पासवर्ड same रखते है।

हैकरों की नजर आपके पर्सनल डेटा चुराने के फिराक़ में रहते है।

कैसे बचें।

● कभी भी ATM PIN या UPI ID और स्मार्टफोन के लॉक स्क्रीन का पासवर्ड को same न रखें।

● जब किसी वेबसाइट पर sign up करते है तो e-mail i’d के same पासवर्ड से लोग इन न करें।
● हर जगह अलग-अलग पासवर्ड रखें।
● कभी भी पासवर्ड अपने नाम या आयु का न बनायें।

9. नकली एक्सेसरीज का उपयोग करना। 

नकली एक्सेसरीज मतलब सस्ते मोबाइल गैजेट का उपयोग करना। यदि हमारे मोबाइल का चार्जर या बैटरी खराब हो जाता हैं, तो हम सस्ते चार्जर और बैटरी का यूज करने लगते हैं।

हम सस्ते के चक्कर में हम अपने महंगे स्मार्टफोन को नुकसान हो जाता हैं।

लोकल कंपनी के चार्जर से हमारे स्मार्टफोन की बैटरी ज्यादा नही चलती है। और चार्ज भी होने में काफी टाइम लगता है।

कैसे बचें? 

● अगर आपके मोबाइल का चार्जर या बैटरी ख़राब हो जाती हैं, तो आप कंपनी का ही चार्जर या बैटरी का ही उपयोग करें।
● हमेशा कंपनी के समान का ही यूज करें।
नकली एक्सेसरीज का उपयोग न करें।

10. हमेशा ब्लूटूथ आन करके रखना।

ब्लूटूथ वायरस का एक अच्छा चालक है। मोबाइल के अंदर अधिकतर वायरस ब्लूटूथ के ही जरिये आता है।

ज्यादातर लोग ब्लूटूथ को ऑन करके छोड़ देते है। अक्सर फ़ाइल ब्लूटूथ के जरिये भेजते हैं। और ट्रांसफर करने के बाद हम ब्लूटूथ को ऑन ही भूल जाते है।

यदि आपके मोबाइल का ब्लूटूथ हमेशा आन रहता है तो आपका डक़त हैक होने का डर रहता है।

कैसे बचें?

● ब्लूटूथ के जरिये फ़ाइल को ट्रांसफर न करें।
● अगर ब्लूटूथ के सहायता से फ़ाइल को शेयर करते है तो शेयर करने के तुरंत बाद बंद कर दें।
● कुछ ऐप को ओपन करते ही ब्लूटूथ आटोमेटिक आन हो जाता है। जब आप उस ऐप का यूज न रहे हो तब ब्लूटूथ ऑफ कर दें।

Conclusion:- 

तो दोस्तो ये 9+ बड़ी गलतियां हर स्मार्टफोन यूजर के साथ होती है। अगर आप भी ये गलतियां करते है तो आप भी इन गलतियों से एतिहात बरतें।

कभी भी थर्ड पार्टी स्टोर से ऐप को न डाउनलोड करें। और हमेशा ब्लूटूथ को ऑफ लड़के रखे। हमेशा कंपनी का ही समान इज करें।

इस अर्टिकल में कौन-कौन सी 9+ बड़ी गलतियां हर स्मार्टफोन यूजर के साथ होती है इसके साथ-साथ कैसे बचें ये भी बताया हूँ।

शायद आपका हर doubt क्लियर हो गया होगा। अगर अभी नही कोई confusion है तो नीचे कंमेंट में पूछिये। मैं आपकी जरूर मदद करूँगा।

यह आर्टिकल पसन्द आया हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।।

धन्यवाद।।।

Leave a Comment